Paryayvachi Shabd (Synonyms Words)(पर्यायवाची शब्द) Page 2

Page 2

Paryayvachi Shabd (Synonyms Words)(पर्यायवाची शब्द)

( छ )
(1) छतरी- छत्र, छाता, छत्ता।
(2) छली- छलिया, कपटी, धोखेबाज।
(3) छवि- शोभा, सौंदर्य, कान्ति, प्रभा।
(4) छानबीन- जाँच, पूछताछ, खोज, अन्वेषण, शोध, गवेषण।
(5) छैला- सजीला, बाँका, शौकीन।
(6) छोर- नोक, कोर, किनारा, सिरा।

( ज, झ )
(7) जल- मेघपुष्प, अमृत, सलिल, वारि, नीर, तोय, अम्बु, उदक, पानी, जीवन, पय, पेय।
(8) जहर- गरल, कालकूट, माहुर, विष ।
(9) जगत- संसार, विश्व, जग, जगती, भव, दुनिया, लोक, भुवन।
(10) जीभ- रसना, रसज्ञा, जिह्वा, रसिका, वाणी, वाचा, जबान।
(11) जंगल- विपिन, कानन, वन, अरण्य, गहन, कांतार, बीहड़, विटप।
(12) झण्डा- ध्वजा, पताका, केतु।
(13) झूठ- असत्य, मिथ्या, मृषा, अनृत।

(त )
(14) तालाब- सरोवर, जलाशय, सर, पुष्कर, ह्रद, पद्याकर , पोखरा, जलवान, सरसी, तड़ाग।
(15) तोता- सुग्गा, शुक, सुआ, कीर, रक्ततुण्ड, दाड़िमप्रिय।
(16) तरुवर- वृक्ष, पेड़, द्रुम, तरु, विटप, रूंख, पादप।
(17) तलवार- असि, कृपाण, करवाल, खड्ग, शमशीर चन्द्रहास।
(18) तरकस- तूण, तूणीर, त्रोण, निषंग, इषुधी।
(19) तामरस- कमल, पंकज, सरसिज, नीरज, पुण्डरीक, इन्दीवर।
(20) तिमिर- तम, अंधकार, अंधेरा, तमिस्त्रा।
(21) तीर- शर, बाण, विशिख, शिलीमुख, अनी, सायक।

( थ )
(22) थोड़ा- अल्प, न्यून, जरा, कम।
(23) थाती- जमापूँजी, धरोहर, अमानत।
(24) थाक- ढेर, समूह।
(25) थप्पड़- तमाचा, झापड़।
(26) थंभ- खंभ, खंभा, स्तम्भ।

( द )
(27) दूध- दुग्ध, दोहज, पीयूष, क्षीर, पय, गौरस, स्तन्य।
(28) दास- नौकर, चाकर, सेवक, परिचारक, अनुचर, भृत्य, किंकर।
(29) दुःख- पीड़ा, कष्ट, व्यथा, वेदना, संताप, संकट, क्लेश, यातना, यन्तणा, शोक, खेद, पीर,।
(30) देवता- सुर, देव, अमर, वसु, आदित्य, निर्जर, त्रिदश, गीर्वाण, अदितिनंदन, अमर्त्य, अस्वप्न, आदितेय, दैवत, लेख, अजर, विबुध।
(31) दरिद्र- निर्धन, ग़रीब, रंक, कंगाल, दीन।
(32) दिन- दिवस, याम, दिवा, वार, प्रमान, वासर, अह्न।
(33) दुर्गा- चंडिका, भवानी, कुमारी, कल्याणी, सिंहवाहिनी, कामाक्षी, सुभद्रा, महागौरी, कालिका, शिवा, चण्डी, चामुण्डा।

( ध )
(34) धन- दौलत, संपत्ति, सम्पदा, वित्त।
(35) धरती- धरा, धरती, वसुधा, ज़मीन, पृथ्वी, भू, भूमि, धरणी, वसुंधरा, अचला, मही, रत्नवती, रत्नगर्भा।
(36) धनुष- चाप्, शरासन, कमान, कोदंड, पिनाक, सारंग, धनु।

( न )
(37) नदी- तनूजा, सरित, शौवालिनी, स्रोतस्विनी, आपगा, निम्रगा, कूलंकषा, तटिनी, सरि, सारंग, जयमाला, तरंगिणी, दरिया, निर्झरिणी।
(38) नौका- नाव, तरिणी, जलयान, जलपात्र, तरी, बेड़ा, डोंगी, तरी, पतंग।
(39) नाग- विषधर, भुजंग, अहि, उरग, काकोदर, फणीश, सारंग, व्याल, सर्प, साँप।
(40) नर्क- यमलोक, यमपुर, नरक, यमालय।
(41) नर- जन, मानव, मनुष्य, पुरुष, मर्त्य, मनुज।
(42) निंदा- दोषारोपण, फटकार, बुराई, भर्त्सना।
(43) नेत्र- चक्षु, लोचन, नयन, अक्षि, चख, आँख।
(44) नया- नूतन, नव, नवीन, नव्य।

( प )
(45) पति- भर्ता, वल्लभ, स्वामी, प्राणाधार, प्राणप्रिय, प्राणेश, आर्यपुत्र।
(46) पत्नी- भार्या, दारा, बेगम, कलत्र, प्राणप्रिया, वधू, वामा, अर्धांगिनी, सहधर्मिणी, गृहणी, बहु, वनिता, जोरू, वामांगिनी।
(47) पक्षी- खेचर, दविज, पतंग, पंछी, खग, विहग, परिन्दा, शकुन्त, अण्डज, चिडिया, गगनचर, पखेरू, विहंग, नभचर।
(48) पर्वत- पहाड़, गिरि, अचल, भूमिधर, तुंग आद्रि, शैल, धरणीधर, धराधर, नग, भूधर, महीधर।
(49) पण्डित- सुधी, विद्वान, कोविद, बुध, धीर, मनीषी, प्राज्ञ, विचक्षण।
(50) पुत्र- बेटा, लड़का, आत्मज, सुत, वत्स, तनुज, तनय, नंदन।
(51) पुत्री- बेटी, आत्मजा, तनूजा, दुहिता, नन्दिनी, लड़की, सुता, तनया।
(52) पृथ्वी- धरा, धरती, भू, इला, उर्वी, धरित्री, धरणी, अवनि, मेदिनी, क्षिति, मही, वसुंधरा, वसुधा, जमीन, भूमि।
(53) पुष्प- फूल, सुमन, कुसुम, मंजरी, प्रसून, पुहुप।
(54) पानी- जल, नीर, सलिल, अंबु, अंभ, उदक, तोय, जीवन, वारि, पय, अमृत, मेघपुष्प, सारंग।
(55) परिवर्तन- बदलाव, हेरफेर, तबदीली, फेरबदल।
(56) पत्थर- पाहन, पाषाण, प्रस्तर, उपल।
(57) पथ- मग, मार्ग, राह, पंथ, रास्ता।
(58) पिता- जनक, तात, पितृ, बाप।
(59) प्रकाश- ज्योति, चमक, प्रभा, छवि, द्युति।
(60) पेड़- तरु, द्रुम, वृक्ष, पादप, रुक्ष।
(61) पवन- वायु, हवा, समीर, वात, मारुत, अनिल, पवमान, समीरण, स्पर्शन।

( फ )
(62) फल- फलम, बीजकोश।
(63) फूल- पुष्प, सुमन, कुसुम, गुल, प्रसून।

( ब )
(64) बाण- सर, तीर, सायक, विशिख, आशुग, इषु, शिलीमुख, नाराच।
(65) बहुत- अनेक, अतीव, अति, बहुल, भूरि, बहु, प्रचुर, अपरिमित, प्रभूत, अपार, अमित, अत्यन्त, असंख्य।
(66) बादल- मेघ, घन, जलधर, जलद, वारिद, नीरद, सारंग, पयोद, पयोधर।
(67) बगीचा- बाग़, वाटिका, उपवन, उद्यान, फुलवारी, बगिया।
(68) बाल- कच, केश, चिकुर, चूल।

( भ )
(69) भौंरा- अलि, मधुव्रत, शिलीमुख, मधुप, मधुकर, द्विरेप, षट्पद, भृंग, भ्रमर।
(70) भोजन- खाना, भोज्य सामग्री, खाद्यय वस्तु, आहार।
(71) भय- भीति, डर, विभीषिका।
(72) भाई- तात, अनुज, अग्रज, भ्राता, भ्रातृ।
(73) भूषण- जेवर, गहना, आभूषण, अलंकार।

( म )
(74) मछली- मीन, मत्स्य, झख, झष, जलजीवन, शफरी, मकर।
(75) महादेव- शम्भु, ईश, पशुपति, शिव, महेश्र्वर, शंकर, चन्द्रशेखर, भव, भूतेश, गिरीश, हर, त्रिलोचन।
(76) मेघ- घन, जलधर, वारिद, बादल, नीरद, वारिधर, पयोद, अम्बुद, पयोधर।
(77) मुनि- यती, अवधूत, संन्यासी, वैरागी, तापस, सन्त, भिक्षु, महात्मा, साधु, मुक्तपुरुष।
(78) मित्र- सखा, सहचर, स्नेही, स्वजन, सुहृदय, साथी, दोस्त।
(79) मोर- केक, कलापी, नीलकंठ, शिखावल, सारंग, ध्वजी, शिखी, मयूर, नर्तकप्रिय।
(80) मनुष्य- आदमी, नर, मानव, मानुष, जन, मनुज।
(81) मदिरा- शराब, हाला, आसव, मधु, मद्य, वारुणी, सुरा, मद।
(82) मधु- शहद, रसा, शहद, कुसुमासव।
(83) मृग- हिरण, सारंग, कृष्णसार।
(84) माता- जननी, माँ, अंबा, जनयत्री, अम्मा।
(85) मूर्ख- गँवार, अल्पमति, अज्ञानी, अपढ़, जड़।
(86) मृत्यु- देहांत, मौत, अंत, स्वर्गवास, निधन, देहावसान, पंचत्व, इंतकाल, काशीवास, गंगालाभ, निर्वाण, मरण।
(87) माँ- अंबा, अम्बिका, अम्मा, जननी, धात्री, प्रसू।
(88) मूँगा- प्रवाल, रक्तांग, विद्रुम, रक्तमणि।
(89) मोक्ष- मुक्ति, परधाम, निर्वाण, कैवल्य, सद्गति, निर्वाण, परमपद, अपवर्ग।
(90) यमुना- कालिन्दी, सूर्यसुता, रवितनया, तरणि-तनूजा, तरणिजा, अर्कजा, भानुजा।
(91) युवति- युवती, सुन्दरी, श्यामा, किशोरी, तरुणी, नवयौवना।

( र )
(92) रात्रि- निशा, क्षया, रैन, रात, यामिनी, रजनी, त्रियामा, क्षणदा, शर्वरी, तमस्विनी, विभावरी।
रात- रात्रि, रैन, रजनी, निशा, यामिनी, तमी, निशि, यामा, विभावरी।
(93) राजा- नृपति, भूपति, नरपति, नृप, महीप, राव, सम्राट, भूप, भूपाल, नरेश, महीपति, अवनीपति।
(94) रवि- सूरज, दिनकर, प्रभाकर, दिवाकर, सविता, भानु, दिनेश, अंशुमाली, सूर्य।
(95) रमा- इन्दिरा, हरिप्रिया, श्री, लक्ष्मी, कमला, पद्मा, पद्मासना, समुद्रजा, श्रीभार्गवी, क्षीरोदतनया।
(96) रामचन्द्र- अवधेश, सीतापति, राघव, रघुपति, रघुवर, रघुनाथ, रघुराज, रघुवीर, रावणारि, जानकीवल्लभ, कमलेन्द्र, कौशल्यानन्दन।
(97) रावण- दशानन, लंकेश, लंकापति, दशशीश, दशकंध, दैत्येन्द्र।
(98) राधिका- राधा, ब्रजरानी, हरिप्रिया, वृषभानुजा।
(99) रक्त- खून, लहू, रुधिर, शोणित, लोहित।
(100) राक्षस- दैत्य, असुर, निशाचर।

  PAGE 1    PAGE 3

2 Comments

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *